myjyotish

8595527216

   whatsapp

8595527218

Whatsup
  • Login

  • Cart

  • wallet

    Wallet

Home ›   Astrology Blogs ›   tulsi ji ki aarti jai tulsi mata

Tulsi Aarti

Myjyotish Expert Updated 03 Jan 2021 06:13 PM IST
Tulsi Mata Aarti
Tulsi Mata Aarti - Photo : Myjyotish
Tulsi ji is the most sacred plant in the Hindu religion. Tulsi ji is highly revered and worshipped because of its connections to Lord Vishnu. This Tulsi plant is considered to be the earthly form of Tulsi Mata who is an ardent devotee of Lord Krishna. 

Need an expert's advise ?

SUBMIT

Different parts of the Tulsi plant are believed to be the abode of various deities. Tulsi Puja is done to bring peace to home, she is believed to be a manifestation of Goddess Lakshmi on earth. 

Tulsi Mata Aarti


Jai jai tulasi mata, sab jag ki such data, var data
Jai jai tulasi mata||
Sab yogon ke upar, sab rogon ke upar,
Ruj se raksha karke bhav trata।
Jai jai tulasi mata।
Batu putri he shyama, sur balli he gramya,
Vishnu priye jo tumko seve, so nar tar jata।
Jai jai tulasi mata।
Hari ke sheesh virajat, tribhuvan se ho vandit,
Patit jano ki tarini vikhyata।
Jai jai tulasi mata।
Lekar janma vijan mein, aai divya bhavan mein,
Manavlok tumhi se sukh sampatti pata।
Jai jai tulasi mata।
Hari ko tum ati pyari, shyamvarna humhari,
Prem ajab hai unka tumse nata।
Jai jai tulasi mata।
  • 100% Authentic
  • Payment Protection
  • Privacy Protection
  • Help & Support


Free Tools

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy and Terms and Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
X